Shah Times

HomeUttar PradeshLucknowसहारनपुर मंडल की तस्वीर ₹5 हजार करोड़ से अधिक के निवेश से...

सहारनपुर मंडल की तस्वीर ₹5 हजार करोड़ से अधिक के निवेश से बदलेगी

Published on

सहारनपुर मंडल के तीनों जिलों में उद्यमी लगा रहे ₹5435 करोड़ की परियोजनाएं

₹50 करोड़ से अधिक की 14 परियोनाओं से 10669 से अधिक रोजगारों का होगा सृजन

मुजफ्फरनगर जिले में ₹2,811 करोड़ का निवेश, 1,420 रोजगार

 शामली जिले में ₹1,310 करोड़ का निवेश, 2,000 रोजगार

लखनऊ,(Shah Times) । प्रदेश में ₹10 लाख करोड़ के निवेश धरातल पर उतारे जा चुके हैं अगर यह हकीकत में जमीन पर उतरे तो वास्तव में मंडल ही नहीं बदल जाएगी प्रदेश की तस्वीर। गत माह आयोजित हुए ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी (जीबीसी 4.0) के बाद प्रदेश के सभी 18 मंडलों में बड़े पैमाने पर निवेश को धरातल पर उतारा गया है।

हजारों करोड़ रुपए की विभिन्न परियोजनाओं से मंडलों में न केवल उद्योग का वातावरण बनेगा, बल्कि बड़े पैमाने पर रोजगार भी सृजित होंगे। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की स्पष्ट मंशा है कि प्रदेश के नौजवानों को नौकरी की तलाश में प्रदेश से बाहर न जाना पड़े, ऐसे में राज्य के विभिन्न मंडलों में हो रहे हजारों करोड़ रुपए के निवेश से नई उम्मीद जगी है। 

बात करें सहारनपुर मंडल की तो इसमें शामिल तीन जिलों, मुजफ्फरनगर, शामली और सहारनपुर में ₹50 करोड़ से अधिक की 14 बड़ी परियोजनाओं पर सबकी निगाहें टिकी हैं। ₹5435 करोड़ की ये परियोजनाएं अपने साथ 10 हजार से अधिक रोजगार भी लेकर आ रही हैं। इन परियोजनाओं में इथनॉल प्लांट, सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट, विद्युत ट्रांसमिशन, प्राइवेट इंडस्ट्रियल प्लांट, वुडेन हैंडिक्राफ्ट, होटल इंडस्ट्री, डिस्टलरी और सरिया निर्माण जैसे उद्योग शामिल हैं।   

मुजफ्फरनगर जिले में सर्वाधिक निवेश

जीबीसी 4.0 के जरिए सहारनपुर मंडल अंतर्गत तीनों जिलों में मुजफ्फरनगर जनपद में सर्वाधिक निवेश धरातल पर उतारने में सफलता मिली है। 50 करोड़ से अधिक का निवेश करने वाली पांच परियोजनाओं से ₹2,811 करोड़ का निवेश धरातल पर उतर रहा है। इससे 1,420 रोजगार सृजित होंगे। मुजफ्फरनगर में जो बड़े उद्योग समूह निवेश कर रहे हैं उनमें सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट में जीसी इंडिया सॉल्यूशन प्रा.लि. की ओर से ₹1480 करोड़ का निवेश किया जा रहा है, इससे लगभग 500 रोजगार सृजित होंगे। इसी प्रकार दीपावली पूजा बॉक्स निर्माण के लिए रेशु एडवर्टाइजिंग प्रा.लि. की ओर से ₹600 करोड़ का निवेश हो रहा है, जिससे 150 रोजगार सृजित होंगे। वहीं वुड बेस्ड प्रॉडक्ट मैन्यूफैक्चरिंग में सप्तम डिकोर प्रा.लि. की ओर से ₹301 करोड़ का निवेश हुआ है, जिससे 300 रोजगार सृजित होंगे। वहीं टीएमटी सरिया निर्माण के लिए स्वरूप स्टील इंडस्ट्री प्रा.लि. की ओर से ₹270 करोड़ का निवेश किया गया है। इससे 325 रोजगार के अवसर बनेंगे। इसके अलावा डिस्टलरी निर्माण के लिए अल्कोबुल्स लि. ने ₹160 करोड़ का निवेश किया है, जिससे 145 रोजगार के अवसर सृजित होंगे। 

सहारनपुर में सबसे ज्यादा रोजगार

सहारनपुर मंडल के तीनों जनपदों में से मुख्यालय जनपद यानी सहारनपुर में सर्वाधिक रोजगार सृजित होने की संभावना है। यहां ₹1,314 करोड़ की परियोजनाओं से 7249 रोजगार के अवसर पैदा होंगे। ₹50 करोड़ से अधिक की चार परियोजनाएं यहां मूर्त रूप ले रही हैं। इनमें लकड़ी के हैंडिक्राफ्ट के एक्सपोर्ट के लिए सहारनपुर हैंडिक्राफ्ट डेवलपमेंट सेंटर की ओर से ₹604 करोड़ का निवेश हुआ है, जिससे 2000 रोजगार के अवसर पैदा होंगे। इसी प्रकार पुलत्स्य इंडस्ट्रियल पार्क लिमिटेड की ओर से प्राइवेट इंडस्ट्रियल पार्क के लिए ₹500 करोड़ का निवेश किया गया हे। इससे 5000 रोजगार के अवसर सृजित होंगे। इसी के साथ कॉमर्शियल प्लॉट डेवलपमेंट के क्षेत्र में कॉस्मोस इन्फ्रा इंजीनियरिंग इंडिया प्रा.लि की ओर से ₹130 करोड़ का निवेश किया गया है, जिससे 150 रोजगार सृजित होंगे। वहीं सीबीजी प्लांट के लिए सिनर्जी टेलटेक प्रा.लि. की ओर से ₹80 करोड़ का निवेश हुआ है, जिससे तकरीबन 100 की संख्या में रोजगार के अवसर पैदा होंगे। 

शामली में दो हजार नौकरियां देंगी ये पांच परियोजनाएं

सहारनपुर मंडल के तीसरे जिले शामली में भी निवेशकों ने रुचि दिखाते हुए ₹1,310 करोड़ का निवेश किया है। ₹50 करोड़ से अधिक का निवेश करने वाली पांच कंपनियों के जरिए शामली में दो हजार नौकरियों के अवसर सृजित होंगे। इनमें पेपर एंड पेपर क्रेप्ट के क्षेत्र में सिक्का पेपर प्रा.लि. की ओर से ₹400 करोड़ का निवेश किया गया है, यहां 300 की संख्या में रोजगार का सृजन होगा। इसी प्रकार ज्ञानचेतना एजुकेशनल सोसाइटी की ओर से मेडिकल कॉलेज के लिए ₹300 करोड़ का निवेश किया गया है, यहां 1200 लोगों को रोजगार मिलेगा। वहीं 400केवी मेरठ-शामली डीसी लाइन बिछाने के लिए मेसर्स मेघा इंजीनियरिंग एंड इन्फ्रास्ट्रक्चर लि. की ओर से ₹165 करोड़ का निवेश किया जाएगा, इसके लिए 50 की संख्या में रोजगार सृजित होगा। इसके अलावा इथनॉल प्लांट के लिए सुपीरियर बायोफ्यूल्स प्रा.लि. की ओर से ₹125 करोड़ का निवेश किया जाएगा, जिससे 350 लोगों को काम मिलेगा। यही नहीं रेडिसन पैलेस ग्रुप की ओर से ₹110 करोड़ से होटल का निर्माण होगा, जहां 100 लोगों को प्रत्यक्ष रोजगार के अवसर मिलेंगे।

Latest articles

सभी पोलिंग पार्टियों के पहुंचने पर आएगा अंतिम आंकड़ा

अपर मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने शनिवार शाम दी जानकारी राज्य में मतदान प्रतिशत को...

Shah Times Lucknow 21April 24

Shah Times Delhi 21 April 24

Latest Update

सभी पोलिंग पार्टियों के पहुंचने पर आएगा अंतिम आंकड़ा

अपर मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने शनिवार शाम दी जानकारी राज्य में मतदान प्रतिशत को...

लोकसभा 6 मुरादाबाद से भाजपा प्रत्याशी कुँवर सर्वेश सिंह के निधन की खबर से हर कोई स्तब्ध

मुरादाबाद,(Shah Times) । लोकसभा 6 मुरादाबाद से भारतीय जनता पार्टी से प्रत्याशी और पूर्व...

अरविंद केजरीवाल की गिरफ्तारी का जवाब वोट से

नई दिल्ली/सफदर अली,(Shah Times)। आज रात 8 बजे दिल्ली में हैदराबाद सनशाइन और देल्ही...

यूपी बोर्ड हाईस्कूल और इंटरमीडिएट एग्जाम में लड़कियों का दबदबा

उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद ने हाई स्कूल और इंटरमीडिएट बोर्ड एग्जाम के रिज़ल्ट...

अमेरिका ने पाकिस्तान को कथित आपूर्ति करने वाली तीन विदेशी संस्थाओं पर क्यों लगाया बैन ?

अमेरिका विदेश विभाग के प्रवक्ता मैथ्यू मिलर ने कहा कि यह प्रतिबंध बेलारूस स्थित...

सड़क हादसे में गठबंधन प्रत्याशी चंदन चौहान के तीन समर्थकों की मौत

मरने वालों में बीजेपी आरएलडी गठबंधन प्रत्याशी चंदन चौहान का व्यक्तिगत फोटोग्राफर बताया जा...

पुलिस ने राष्ट्रीय किसान यूनियन नेताओं को किया घर में हाउस अरेस्ट

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को ज्ञापन सौंपने की घोषणा की थी गजरौला/अमरोहा, चेतन रामकिशन (Shah Times)।...

सिंघु बॉर्डर से हटाए जा रहे सीमेंट बेरिकेडस 

हरियाणा के सिंघु बॉर्डर पर पिछले काफी समय से किसान आंदोलन पर बैठे हैं। नई...

गंगा में नहाते हुए डूबे दो युवक

मुनि की रेती क्षेत्र कौड़ियाला और पांडव पत्थर पर हादसाएसडीआरएफ की सर्चिंग में नहीं...
error: Content is protected !!