HomeInternationalअफगानिस्तान से फ़ौज की वापसी का फैसला घातक

अफगानिस्तान से फ़ौज की वापसी का फैसला घातक

Published on

जो बाइडेन अफगानिस्तान में संघर्ष के दौरान सैनिकों की वापसी को लेकर जिम्मेदार

वाशिंगटन । अमेरिका के विदेश विभाग की एक रिपोर्ट में पूर्व सरकार और वर्तमान सरकार की अफगानिस्तान (afghanistan) से 2021 में सैनिकों की वापसी (american army) अभियान के फैसले को लेकर कड़ी आलोचना की गई है।

रिपोर्ट में बताया गया कि अमेरिका के वर्तमान ‍ जो बाइडेन और उनके पूर्ववर्ती डोनाल्ड ट्रम्प ने अफगानिस्तान में तख्ता पलट सरकार के दौरान हुए संघर्ष के बीच सैनिकों की वापसी सुरक्षात्मक दृष्टि से घातक साबित हुआ।

व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव कैरिन जीन-पियरे ने अफगानिस्तान से निकासी को लेकर बाइडेन के तरीके का बचाव करते हुए शुक्रवार को संवाददाताओं से कहा था कि उस वक्त राष्ट्रपति को युद्ध को रोकना था और समाप्त करना था।
अमेरिका ने एक ऐसे युद्ध में अरबों डॉलर खर्च किए थे जिसका कोई अंत नहीं दिख रहा था।

ट्रम्प के प्रवक्ता स्टीवन चेउंग ने एक ईमेल में लिखा,“ जो बाइडेन अफगानिस्तान में संघर्ष के दौरान सैनिकों की वापसी को लेकर जिम्मेदार हैं।
शाह टाइम्स की ताज़ा तरीन खबरों और ई – पेपर के लिए विजिट करे
व्हाइट हाउस की रिपोर्ट ने सेना की वापसी अभियान को लेकर ट्रम्प को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा कि उनके पास योजना और सेना की कमी थी।

विदेश विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा,“मैं उस वक्त लिए गए निर्णय और प्रशासन द्वारा अप्रैल में प्रस्तुत किए गए मुख्य निष्कर्षों पर लिए फैसले के बारे में नहीं बता सकता हूं।

विदेश विभाग ने तालिबान के खिलाफ लगातार काबुल सरकारों का 20 वर्षों तक समर्थन किया और बाद में अंतिम अमेरिकी नेतृत्व वाली अंतरराष्ट्रीय सेनाओं के चले जाने के बाद शुरू किए गए निकासी अभियान से निपटने के बारे में 85 पेज की आफ्टर एक्शन रिपोर्ट के 24 पेज जारी किए।

अफगानिस्तान से 30 अगस्त, 2021 को अंतिम अमेरिकी सैनिकों के जाने से पहले लगभग छह हजार अमेरिकियों सहित लगभग 1.25 लाख से अधिक लोगों को काबुल से बाहर निकाला गया था, क्योंकि अमेरिका समर्थित सरकार के भागने के बाद तालिबान ने काबुल पर अपनी पकड़ मजबूत कर ली थी।


American army, Afghanistan ,shah times
International,Donald Trump ,coup in Afghanistan,Joe Biden, Afghanistan, शाह टाइम्स

The decision to withdraw troops from Afghanistan is fatal

Latest articles

केंद्र में बसपा की सरकार बनी तो वेस्ट को मिलेगा अलग राज्य का दर्जा।

मुस्लिम और जाट को साधते हुए सपा और भाजपा पर बोला हमला                मुजफ्फरनगर/नदीम सिद्दीकी,(Shah Times)।...

साउथ सुपरस्टार राम चरण डॉक्टरेट की डिग्री पाने वाले सबसे कम उम्र एक्टर

ग्लोबल स्टार साउथ सुपरस्टार राम चरण बने सब से यंग एज में डॉक्टरेट की...

बीजेपी ने लोकसभा चुनावों का संकल्प पत्र ‘मोदी की गारंटी 2024’ किया जारी

संकल्प पत्र में देश में गरीब कल्याण योजनाओं एवं विकसित भारत के संकल्प को...

ईरान ने कहा यूएन चार्टर की बुनियाद पर इज़रायल के खिलाफ मिलिट्री एक्शन

  इजरायल के खिलाफ देश की सैन्य कार्रवाई आत्मरक्षा के वैध अधिकार के संबंध में...

Latest Update

केंद्र में बसपा की सरकार बनी तो वेस्ट को मिलेगा अलग राज्य का दर्जा।

मुस्लिम और जाट को साधते हुए सपा और भाजपा पर बोला हमला                मुजफ्फरनगर/नदीम सिद्दीकी,(Shah Times)।...

साउथ सुपरस्टार राम चरण डॉक्टरेट की डिग्री पाने वाले सबसे कम उम्र एक्टर

ग्लोबल स्टार साउथ सुपरस्टार राम चरण बने सब से यंग एज में डॉक्टरेट की...

बीजेपी ने लोकसभा चुनावों का संकल्प पत्र ‘मोदी की गारंटी 2024’ किया जारी

संकल्प पत्र में देश में गरीब कल्याण योजनाओं एवं विकसित भारत के संकल्प को...

ईरान ने कहा यूएन चार्टर की बुनियाद पर इज़रायल के खिलाफ मिलिट्री एक्शन

  इजरायल के खिलाफ देश की सैन्य कार्रवाई आत्मरक्षा के वैध अधिकार के संबंध में...

सलमान खान के घर के बाहर 3 राउंड फायरिंग

सलमान खान के बांद्रा स्थित गैलेक्सी अपार्टमेंट के बाहर दो अज्ञात लोगों ने फायरिंग...

कांग्रेस न्याय पत्र, सभी के लिए न्याय व विकास की गारंटी

कांग्रेस राष्ट्रीय महासचिव अविनाश पाण्डेय ने इंडिया गठबंधन के कांग्रेस प्रत्याशी इमरान मसूद के...

नंदी स्वीट्स पर मिला खराब ढोकला,जाँच को पहुंची टीम के सामने हंगामा    

     मुजफ्फरनगर शहर के कोर्ट रोड स्थित नंदी स्वीट्स पर खराब ढोकले को लेकर ग्राहक...

मुजफ्फरनगर लोकसभा चुनाव का सियासी रुझान

वेस्ट यूपी की मुजफ्फरनगर लोकसभा सीट पर सपा,बसपा और भाजपा मजबूती से चुनाव लड़...

पड़ोसी देश में आतंकवादी हमले में 11 की मौत

एन -40 राष्ट्रीय राजमार्ग को अवरुद्ध कर दिया। एक वाहन के नहीं रुकने पर...
error: Content is protected !!