HomeDelhiइमामों के वेतन की जानकारी उपलब्ध कराएं

इमामों के वेतन की जानकारी उपलब्ध कराएं

Published on

सूचना आयोग का दिल्ली सरकार को आदेश

  • आदेश मिलने के 20 दिनों के भीतर सूचना के अधिकार के तहत जानकारी मांगने वाले को दिया जाए पूरा ब्यौरा
  • सूचना अधिकार कार्यकर्ता सुभाष अग्रवाल ने दिल्ली सरकार से इमामों के वेतन पर मांगी थी जानकार
  • अग्रवाल ने दिल्ली सरकार से पूछा था कि क्या इमामों की तरह पुजारियों और ग्रंथियों को भी मिलता है वेतन
  • रस्साकशी के चलते साल भर से नहीं मिल रहा इमामों को वेतन

यूसुफ अंसारी
केंद्रीय सूचना आयोग ने दिल्ली के मुख्यमंत्री कार्यालय को दिल्ली वक्फ बोर्ड (Delhi Waqf Board )की तरफ से मस्जिदों के इमामों को दिए जा रहे वेतन के बारे में पूरी जानकारी आरटीआई के तहत देने का आदेश दिया है। केंद्रीय सूचना आयोग ने आदेश मिलने के 20 दिनों के भीतर सूचना के अधिकार कारों के तहत जानकारी मांगने वाले आवेदक सुभाष अग्रवाल को देने का निर्देश दिया है। आयोग ने दो टूक कहा है कि अगर इस मामले में उसके आदेश का पालन नहीं किया जाता तो वे अधिकारियों को तलब करने की शक्ति का इस्तेमाल करने पर विवश होगा। मामले की अगली सुनवाई 7 जुलाई 2023 को दोपहर 3 बजे निर्धारित की गई है।

सूचना आयुक्त उदय माहुरकर ने अपने आदेश में कहा कि अगर जरूरी हुआ तो आयोग अपने फैसले का अनुपालन सुनिश्चित कराने के लिए सूचना के अधिकार कानून की धारा 18(3)(ई) के तहत उपलब्ध अपनी शक्तियों का उपयोग संबंधित पक्षों को तलब करने के लिए कर सकता है। गौरतलब है कि 25 नवंबर 2022 के अपने आदेश में सूचना आयुक्त उदय माहुरकर ने दिल्ली सरकार को आदेश दिया था कि वह सामाजिक कार्यकर्ता सुभाष अग्रवाल की तरफ से मांगी गई जानकारी उपलब्ध करा दे। सुभाष अग्रवाल ने सूचना के अधिकार कानून के तहत दिल्ली सरकार से दिल्ली वक्फ बोर्ड के तहत आने वाली मस्जिदों के ईमामों को दिए जाने वेतन का संपूर्ण ब्यौरा और सक्षम अधिकारी का विवरण दिए जाने की मांग की थी।

सूचना आयुक्त उदय माहुरकर ने अपने नवीनतम आदेश में कहा है कि सीएम कार्यालय को यह सुनिश्चित करने का निर्देश दिया जाता है कि 25 नवंबर 2022 के सीआईसी के फैसले का दिल्ली सरकार के मातहत काम करने वाले प्राधिकरण की तरफ से अनुपालन किया जाए। आयोग की ओर से निर्देश जारी किया गया है कि आदेश की प्रति मिलने के 20 दिनों के भीतर उसके आदेश का अनुपालन सुनिश्चित कराया जाना चाहिए। अपने सूचना के अधिकार के तहत दिए गए आवेदन के जरिए सुभाष अग्रवाल की तरफ से यह भी पूछा गया है कि क्या हिंदू मंदिरों के पुजारियों को भी इस तरह का वेतन दिया जा रहा है? अग्रवाल के आवेदन पर एलजी और मुख्यमंत्री के कार्यालय ने जवाब नहीं दिया था इसके बाद मुख्य सचिव के कार्यालय ने इसे राजस्व विभाग को स्थानांतरित कर दिया था।

ग़ौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट ने 1993 में अखिल भारतीय इमाम संगठन की एक याचिका पर दिल्ली वक्फ बोर्ड को उसके तहत आने वाली मस्जिदों के इमामों को पारिश्रमिक देने का निर्देश दिया था। तब से दिल्ली वक्फ बोर्ड इमामों और मुअज़्जनों को वेतन देता आ रहा है। लेकिन कुछ साल से हिंदू संगठनों की तरफ से इस पर सख्त आपत्ति जताई गई है इन संगठनों का कहना है कि सरकार अगर इमामों को वेतन देती है तो फिर मंदिर के पुजारियों और गुरुद्वारों के ग्रंथियों को भी वेतन मिलना चाहिए। इसी रस्साकशी की वजह से पिछले एक साल से इमामों को वेतन नहीं मिला है।

Latest articles

कोतवाली पुलिस ने चैकिंग के दौरान एक कार से बरामद किए 30 लाख रुपये

राजपुर रोड स्थित दिल्ली नंबर की कार को रोककर उसमे से बरामद कि नगदी इंकम...

रिलायंस शोरूम में पड़ी डकैती के वांछित को बी वारंट पर दून लाएगी पुलिस

राज्य स्थापना दिवस पर राजपुर रोड स्थित ज्वैलरी शोरूम में डाली थी 15 करोड...

दलितों की आवाज उठाने पर चंद्रशेखर आजाद को किया नजरबंद

संभल , (Shah Times ) । रामपुर में दलित युवक की हत्या के मामले...

बसपा पूर्व विधायक गुड्डू जमाली सपा में हजारों समर्थकों के साथ शामिल

लखनऊ,(Shah Times)। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने...

Latest Update

कोतवाली पुलिस ने चैकिंग के दौरान एक कार से बरामद किए 30 लाख रुपये

राजपुर रोड स्थित दिल्ली नंबर की कार को रोककर उसमे से बरामद कि नगदी इंकम...

रिलायंस शोरूम में पड़ी डकैती के वांछित को बी वारंट पर दून लाएगी पुलिस

राज्य स्थापना दिवस पर राजपुर रोड स्थित ज्वैलरी शोरूम में डाली थी 15 करोड...

दलितों की आवाज उठाने पर चंद्रशेखर आजाद को किया नजरबंद

संभल , (Shah Times ) । रामपुर में दलित युवक की हत्या के मामले...

बसपा पूर्व विधायक गुड्डू जमाली सपा में हजारों समर्थकों के साथ शामिल

लखनऊ,(Shah Times)। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने...

मासिक धर्म जागरूकता में युवाओं की भागीदारी भी ज़रूरी है

कमरुन निसा (लद्दाख) मासिक धर्म, मानव अस्तित्व का एक प्राकृतिक पहलू है, जिसे अक्सर...

यामी गौतम स्टारर “आर्टिकल 370“ इस साल की पहली हिट !

मुंबई,( Shah Times) । यामी गौतम, प्रिया मणि और वैभव तत्ववादी स्टारर आर्टिकल 370...

सैफ अली खान के पिता मंसूर अली खान पटौदी क्रिकेट को लेकर देते थे यह राय

अपने पिता मंसूर अली खान पटौदी के साथ अपनी क्रिकेट की जड़ों को दर्शाते...

चेकिंग के दौरान पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी,अफीम तस्कर गिरफ्तार

थाना बनबसा पुलिस, SOG टीम तथा SSB बनबसा टीम की संयुक्त चेकिंग के दौरान...

राशि अनुसार किस ज्योतिर्लिंग की पूजा है आपके लिए श्रेष्ठ

देवो के देव महादेव के भारत में द्वादश ज्योतिर्लिंग हैं, जिनका अपना एक विशेष...