डॉ भीमराव अम्बेडकर की प्रतिमा का संजीव बालियान एंव चन्द्रमोहन महाराज ने किया अभिषेक

ShahTimesNews
Image Credit: ShahTimesNews

मुजफ्फरनगर  राजकीय इंटर काॅलिज के मैदान में हिन्द मजदूर किसान समिति के बैनर तले आयोजित हुई सभा में कश्मीर में पहली बार स्थापित की जाने वाली भारत रत्न बाबा साहब डॉ भीमराव अम्बेडकर की प्रतिमा का अभिषेक किया गया। इस भव्य और दिव्य अभिषेक को देखने के लिये मजदूर व किसानों का जनसैलाब उमड़ा। इस अवसर पर हिन्द मजदूर किसान समिति के प्रेरणास्त्रोत चन्द्रमोहन जी महाराज और केन्द्रीय राज्य मंत्राी डॉ संजीव  बालियान उपस्थित रहे।

 

 

चन्द्रमोहन ने अपने सम्बोधन के प्रारम्भ में कहा कि बाबा साहब का एहसान नहीं भुला सकता। कश्मीर में बाबा साहब की प्रतिमा की स्थापना के सन्दर्भ में उन्होंने बताया कि बाबासाहब के संविधान का आंतकवादी रोज मजाक उड़ाते थे लेकिन जबसे धारा 370 का नाम कश्मीर से हटा है,बाबा साहब के संविधान का सम्मान बढ़ा है।  

हमने पिछले वर्ष 12 जनवरी को इसी मैदान में ये घोषणा की थी हम कश्मीर में बाबा साहब की प्रतिमा की स्थापना करेंगे, जिसमें कोरोना महामारी के कारण विलम्ब हो गया। चूंकि कश्मीर हिन्दुस्तान का मुकुट है इसलिये हिन्दुस्तान के मुकुट पर बाबा
साहब की प्रतिमा की स्थापना होनी चाहिये क्योंकि वे शिरोमणि हैं। इस पुण्य कार्य को हिन्द मजदूर किसान समिति के सौजन्य से किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि कश्मीर में प्रतिमा की स्थापना में बहुत बाधाएं थी,जिन्हें केन्द्रीय राज्य मंत्री डॉ संजीव बलियान ने अपने भरसक प्रयासों से दूर किया। उन्होंने बाबा साहब के बारे में चर्चा करते हुये कहा कि ये हमारे देश का दुर्भाग्य रहा कि बाबा साहब देश के प्रधानमंत्राी नहीं बन पाये। अगर देश के प्रधानमंत्राी बाबा साहब होते थे तो देश में जाति व्यवस्था कभी की समाप्त हो गयी होती और देश खुशहाल होता। बाबा साहब ने हम हिन्दुस्तानियों के वास्तविक रोग जाति व्यवस्था को पकड़ा था, उन्हें ये पता था कि जाति का जहर क्या है, इससे क्या नुकसान है। क्योंकि जाति से जातिवाद पैदा होता है, जातिवाद से जातिवादी राजनीति पैदा होती है और जातिवादी राजनीति से भ्रष्ट राजनीति पैदा होती है और भ्रष्ट राजनीति से देश की सारी समस्याएं पैदा होती हैं।


चन्द्रमोहन महाराज ने कहा कि बाबा साहब ने तीन सूत्र दिये - शिक्षित बनो, संगठित रहो, संघर्ष करो,लेकिन सर्वप्रथम हमें पहले सूत्र को समझना होगा तब दूसरा सूत्र समझ आयेगा फिर तीसरा, शिक्षित बनने का अर्थ जागरूक रहना है अपने प्रति,देश के प्रति, संसार के प्रति केवल डिग्री प्राप्त कर लेने को ही शिक्षित होना नहीं कहते। जो मनुष्य जागरूक हो गया वो ही संगठित होगा, जो संगठित हो गया वो ही संघर्ष करेगा,जो संगठित नहीं है वो संघर्ष कर ही नहीं सकता। इसलिये पिछले लगभग20 वर्षों से हम जाति व्यवस्था के विरोध में जागरूकता अभियान चला रहे हैं। उन्होंने कहा कि जहां एक तरपफ देश को एकजुट करने का सूत्र लौहपुरूष सरदार वल्लभ भाई पटेल के पास था वहीं दूसरी ओर देशवासियों को एकजुट करने का सूत्रा बाबासाहब के पास था। अतः जिस प्रकार सरदार वल्लभ भाई पटेल जी कीसंसार की सबसे ऊंची प्रतिमा गुजरात में है उसी प्रकार बाबा साहब की उतनी ही भव्य और दिव्य प्रतिमा कश्मीर में स्थापित होनी चाहिये।


 चन्द्रमोहन महाराज ने कहा कि अब हम प्रतिमा को कश्मीर में स्थापित करने के लिये 5000 लोगों के साथ वहां जायेंगे। उन्होंने कहा कि जो भी कश्मीर जाना चाहते हैं वे अपना आधार कार्ड द्वारा रजिस्ट्रेशन करवायेंगे। 23 मार्च को तीन महापुरूषों शहीद शिरोमणि भगतसिंह, सुखदेव, राजगुरू के बलिदान दिवस के पावन अवसर पर महापुरूष बाबा अम्बेडकर की प्रतिमा को कश्मीर में स्थापित किया जायेगा।कश्मीर से आने के बाद हम प्रधानमंत्राी से विनती करेंगे कि मजदूऔर किसान की आर्थिक स्थिति को सुधारने के लिये शिक्षा एक समान और फ्री कर दी जाये अर्थात् शिक्षा का राष्ट्रीयकरण करते हुए वर्तमान में प्रचलति यूपी बोर्ड, सीबीएससी बोर्ड,आईसीएससी बोर्ड इत्यादि सभी समाप्त कर दिये जायें तथा देश में केवल एक बोर्ड हो। इसके अलावा जनसंख्या नियन्त्राण पर कठोर कानून बनना चाहिये इसके लिये भी कार्य करेंगे, इसके लिये मुजफ्फरनगर से ही साईकिल पर एक लाख महिला और पुरूष दिल्ली रामलीला मैदान के लिये कूच करेंगे। 

 

 केन्द्रीय राज्य मंत्री डॉ संजीव बालियान ने कृषि बिल का समर्थन करते हुए कहा कि यदि किसी कंपनी ने किसान की जमीन छीनी तो वे पहले सांसद होंगे जो सबसे पहले त्याग पत्र दे देंगे। उन्होंने भारी जनसमूह को सम्बोधित करते हुए कहा कि किसान की जमीन कोई भी नहीं छीन सकता। मजदूर किसान समिति के बैनर तले आज कृषि बिलों के समर्थन में जीआईसी के मैदान में किसान पंचायत का आयोजन किया गया। किसान पंचायत में भारी संख्या में महिलाओं ने प्रतिभाग किया, जो कि एक आश्चर्य की बात रही। किसान पंचायत को सम्बोधित करते हुए डॉ केन्द्रीय राज्य मंत्री संजीव बालियान ने कहा कि जिस दिन कोई भी उद्योगपति या कंपनी किसानों की जमीन छीनने की कोशिश करेगा, उस दिन वे सबसे पहले सांसद होंगे जो अपना त्याग पत्र सौंप देंगे। उन्होंने कहा कि कृषि बिल में ऐसा कुछ भी नहीं है, किसान की जमीन कोई छीनने की सोच भी नहीं सकता। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार किसानों के साथ है। सरकार चाहती है कि कानून व्यवस्था बेहतर हो। सरकार चाहती है कि किसानों की आर्थिक स्थिति सुदृढ़ हो।


उन्होंने कहा कि सरकार बनाने में किसानों का बहुत बड़ा योगदान है। उन्होंने कहा कि किसानों के आंदोलन को चलते हुए 100 दिन हो चुके हैं। सरकार आपसे बात करना चाहती है। आईये मुद्दों पर बात कीजिये। उन्होंने कहा कि यदि कृषि कानूनों में कोई भी काला शब्द होगा, तो उसे हमें बताईये, उसे निकाला जायेगा। उन्होंने कहा कि हमें बताएं, कानून में क्या कमी है, उस कमी को निकाला जायेगा। उन्होंने कहा कि भ्रम न फैलाएं, यदि कृषि कानूनों में कुछ भी बुरा है, तो उसे बताएं, हम वार्ता के लिए तैयार है, जो भी गलत है, उसे हर हाल में निकाला जायेगा। उन्होंने कहा कि जाति विहीन समाज की सोच को लेकर आगे बढ़ना है। उन्होंने कहा कि किसानों के लिए फसल बेचने में किसी प्रकार की कोई बंदिश नहीं है। किसान चाहें, तो सरकारी मंडी में अपनी फसल बेचें, किसान चाहें तो प्राईवेट रूप से अपनी फसल बेचें। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने बिजली की समस्या को दूर किया है। किसानों के हितों में कई योजनाएं चलाई हैं। सरकार किसान हितैषी है। कोई किसान की जमीन को हथिया लेगा, यह सिर्फ भ्रम फैलाया जा रहा है। इस भ्रम से बचें।

 

इस अवसर पर डॉ केन्द्रीय राज्य मंत्राी डॉ. संजीव बालियान ने चन्द्रमोहन के साथ बाबा डॉ अम्बेडकर की विशाल प्रतिमा का गंगाजल, दूध, शहद और कैसर आदि से अभिषेक किया। समारोह में भारी संख्या में लोगों की भीड़ उमड़ी मंच का संचालन नीरज द्वारा किया गया। कार्यक्रम में राष्ट्रीय अध्यक्ष राजपाल,उपाध्यक्ष तपेन्द्र, सचिव सतीश,मुजफ्फरनगर जिले के अध्यक्ष धीरसिंह, उपाध्यक्ष रमन, पदम सिंह इत्यादि उपस्थित रहे।

I think all aspiring and professional writers out there will agree when I say that ‘We are never fully satisfied with our work. We always feel that we can do better and that our best piece is yet to be written’.
View all posts

Leave a Reply