राहुल गांधी ने चीनी सेना की घुसपैठ को लेकर सैन्य स्तर की वार्ता को दिया अर्थहीन करार

ShahTimesNews
Image Credit: ShahTimesNews

नयी दिल्ली कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने चीनी सेना की घुसपैठ को लेकर सैन्य स्तर की वार्ता को अर्थहीन करार देते हुए इसे समय की बर्बादी बताया और कहा कि इससे राष्ट्रीय सुरक्षा खतरे में पड़ गई है।

राहुल गांधी ने सोमवार को ट्वीट किया, “गोगरा-हॉटस्पॉट स्प्रिंग और देपसांग प्लेन्स पर चीनी सेना का कब्ज़ा भारत के रणनीतिक हितों के साथ ही डीबीओ हवाई पट्टी के लिए भी सीधा खतरा है।

सरकार की बेमतलब की वार्ता से राष्ट्रीय सुरक्षा व्यापक स्तर पर चरमरा गई है। हम इससे बेहतर करने में सक्ष्म है।”

Chinese occupation of Gogra-Hot Springs & Depsang plains is a direct threat to India’s strategic interests including the DBO airstrip.

National security massively jeopardised by GOI’s wasteful talks.

Our nation deserves better.

— Rahul Gandhi (@RahulGandhi) April 19, 2021


कांग्रेस ने चीन सीमा पर शांति को लेकर चीनी सेना के वादा तोड़ने की खबरों पर सरकार को घेरते हुए आरोप लगाया था कि वह सीमा पर रणनीतिक तौर से चीन के समक्ष समर्पण कर राष्ट्रीय सुरक्षा के साथ समझौता कर रही है।

उसका कहना था कि मीडिया की खबरों के अनुसार चीनी सेना ने सीमा पर रणनीतिक महत्व की कई पोस्ट से पीछे नहीं हट रही है। इस संबंध में चीन की सेना और भारतीय सेना के बीच नौ अप्रैल को हुई आखिरी दौर की वार्ता के दौरान चीनी सेना ने रणनीतिक महत्व की कई चौकियों से पीछे हटना से इन्कार कर दिया है।

 

 

I think all aspiring and professional writers out there will agree when I say that ‘We are never fully satisfied with our work. We always feel that we can do better and that our best piece is yet to be written’.
View all posts

Leave a Reply