बिहार में PM का तीसरा दौरा:मोदी बोले- एक पक्ष लालटेन लाना चाहता है, दूसरी ओर NDA ने गांव-गांव दूधिया रोशनी कर दी

ShahTimesNews
Image Credit: ShahTimesNews

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का रविवार को बिहार में तीसरा दौरा है। सबसे पहले उन्होंने छपरा में रैली की। राहुल गांधी और तेजस्वी यादव पर तंज कसते हुए कहा कि हमारी डबल इंजन वाली सरकार है, तो यहां डबल युवराज हैं। यूपी में जो डबल युवराज (राहुल-अखिलेश यादव) का हुआ, वही बिहार में भी होने वाला है। बगहा की चुनावी रैली में मोदी ने कहा कि एक तरफ जंगलराज वाली सरकार है जो अंधेरा लाना चाहती है ताकि फिर लालटेन जले। दूसरी ओर NDA है, जिसने गांव-गांव बिजली पहुंचाकर LED से दूधिया रोशनी कर दी।

छपरा में मोदी के भाषण की 7 अहम बातें

1. चुनावी पंडितों के आकलन गलत साबित हुए
चुनाव सभाएं हमने पहले भी देखी हैं। सुबह दस बजे से पहले इतनी विशाल रैली कभी संभव नहीं होती। इसका एक कारण यह है कि जो पहले चरण में जो मतदान हुआ, उसमें सोचा जा रहा है कि कोरोना के कारण मतदान नहीं होगा, लेकिन बिहार के लोगों ने चुनावी पंडितों की यह धारणा को गलत साबित कर दिया। भारी मतदान हुआ।

2. दोबारा NDA की सरकार बनने जा रही
पहले चरण के मतदान के आधार पर कुछ पत्रकारों ने अनुमान लगाया है कि नीतीश बाबू के नेतृत्व में एनडीए की सरकार दोबारा बन रही है। इस क्षेत्र के लोगों का यह जोश आपकी यह हुंकार बिहार के जनादेश का संकेत दे रहे हैं। लग रहा है कि गांव के लोगों ने चुनाव से पहले ही विजय की दुंदुभी बजा दी है। बिहार के लोगों को भ्रम में डालने की कुछ लोगों की कोशिशें आप लोगों ने नष्ट कर दी हैं।

3. बौखलाहट में मुझे भी गाली दे रहे
एनडीए के प्रति आप लोगों का यह प्रेम कुछ लोगों को अच्छा नहीं लग रहा है। कुछ तो अपने ही कार्यकर्ताओं को मार रहे हैं। उनकी हताशा-निराशा, उनकी बौखलाहट उनका गुस्सा अब बिहार की जनता देख रही है। चेहरे से हंसी गायब हो गई है। इतने बौखला गए हैं कि मोदी को भी गाली देने लगे हैं। मुझे गाली दीजिए, लेकिन अपना गुस्सा बिहार के लोगों पर मत उतारिए। ये लोग बिहार के लोगों की भावनाएं कभी नहीं समझ सकते। वे अपने परिवार के लिए पैदा हुए हैं, परिवार के लिए ही जी रहे हैं, परिवार के लिए ही जूझ रहे हैं। जिनकी नजर विकास के पैसों पर हो, उन्हें गरीबों की तकलीफ दिखाई नहीं देगी।

4. मोदी ने नल दिया, बिजली दी, गैस दी, पेंशन दी
कुछ दिन पहले मैं बिहार का एक वीडियो देख रहा था, जो सोशल मीडिया पर चल रहा है। वह वीडियो एक बुजुर्ग महिला का है। उनसे एक व्यक्ति पूछता है कि मोदी को आखिर वोट क्यों दोगी, उन्होंने तुम्हारे लिए क्या किया। उस गरीब मां, उन महिला ने इस सवाल का एक सांस में जवाब दे दिया। जब वो मां बोल रही थी, तब सवाल पूछने वाले का चेहरा देखने लायक था। उसकी बोलती बंद हो गई थी। बिना लाग-लपेट के उस महिला ने कहा- मोदी ने हमें नल दिया, बिजली दी, राशन दिया, पेंशन दे रहे हैं, गैस दी। उनको कौन वोट नहीं देगा। क्या तुम्हें देंगे। आज बिहार की महिलाएं, बिहार की बेटियां, यहां के लोग NDA के विरोधियों से यही कह रहे हैं कि NDA को वोट नहीं देंगे तो क्या तुमको देंगे। यह सब मोदी का नहीं, आपके वोट की ताकत है।

5. हमारी डबल इंजन की सरकार, दूसरी तरफ डबल युवराज
एनडीए को दिए एक वोट से ही यह संभव हो सका है। आज बिहार में डबल इंजन की सरकार है तो दूसरी तरफ डबल-डबल युवराज (तेजस्वी यादव-राहुल गांधी) भी हैं। एक तो जंगलराज के युवराज भी हैं। जो उत्तर प्रदेश में डबल युवराज (अखिलेश यादव-राहुल गांधी) का हुआ वही बिहार में होने वाला है। एनडीए का हमारा गठबंधन बिहार के लोगों के जीवन से मुश्किलें कम कर रहा है।

6. आपका बेटा भूखा नहीं सोने देगा
गरीब का चूल्हा जलता रहे, इसलिए दिवाली और छठ पूजा तक अब किसी मां को वह चिंता करने की जरूरत नहीं है कि छठ पूजा को कैसी मनाएंगे। मेरी मां, तुमने अपने इस बेटे को दिल्ली में बैठाया है, क्या वह आपकी छठ पूजा की चिंता नहीं करेगा। आप तो छठ पूजा की तैयारी करो, दिल्ली में तुम्हारा बेटा बैठा है। मां छठ पूजा का त्योहार मनाओ, तुम्हारा बेटा भूखा नहीं सोने दूंगा।

7. किडनैपिंग करने वालों को याद रखिए
बिहार के नौजवान अपने बचपन के दिन नहीं भूल सकते। याद करें कि बचपन में उनकी मां क्या कहती थीं। हर मां, गरीब हो या अमीर, यही कहती थीं, घर के भीतर ही रहो, बाहर मत निकलना, लकड़सुंघवा घूम रहा है। मां उन्हें लकड़सुंघवा से क्यों डराती थी? वह डराती थी, किडनैपिंग करने वालों से। जिस बिहार में यह हाल रहा हो, उससे लोग क्या उम्मीद लगा सकते हैं। नए वोटरों याद रखना है कि बिहार को सुधारने में लोगों ने बहुत तपस्या की है। उन लोगों को लालटने का उजाला लौटता दिखेगा, वे निराश हो जाएंगे।

Tags:

I think all aspiring and professional writers out there will agree when I say that ‘We are never fully satisfied with our work. We always feel that we can do better and that our best piece is yet to be written’.
View all posts

Leave a Reply