सर्दी-जुकाम सहित कई बीमारियों में लाभकारी है- प्याज का रस

ShahTimesNews
Image Credit: ShahTimesNews

सर्दी-जुकाम  सहित कई बीमारियों में लाभकारी है प्याज का रस
मूल रूप से प्याज को सब्जी माना गया है। इसे सिर्फ भारत में ही नहीं, बल्कि विश्वभर में चाव से खाया जाता है। इसका वैज्ञानिक नाम एलियम सेपा (Allium Cepa) है। इसे विभिन्न भाषाओं में अलग-अलग नाम से बुलाया जाता है। हिंदी में इसे प्याज के साथ-साथ कांदा और डुंगरी भी कहा जाता है, वहीं, तेलुगू में उल्लिपायालु/येरा गद्दालु/निरुल्ली, तमिल में वैंगयम, मलयायलम में सवाना, कन्नड़ में उल्लिगड्डे/एरुल्ली/नीरुली, बंगाली में पिंयाज, गुजराती में डुंगरी/कांदा और मराठी में कंडा कहा जाता है। प्याज के पौधे में नीले व हरे रंग के पत्ते होते हैं।प्याज का इस्तेमाल खाना बनाने में किया जाता है। वहीं, इसे कच्चा भी खाया जा सकता है और इसकी चटनी व आचार भी बनता है। इसका स्वाद तीखा और तेज होता है। इसे किसी भी तरह के मौसम में आसानी से उगाया जा सकता है। अगर इसके पौधे की बात करें, तो वैज्ञानिक इसे तना मानते हैं, जो जमीन के अंदर रहता है। यह पौधे को ठीक तरह से बढ़ने में मदद करता है।प्याज का सेवन आमतौर पर टेस्टी रेसिपी बनाने और सलाद के रूप में किया जाता है। इसके अलावा कई लोग प्याज के रस का इस्तेमाल बालों से डैंड्रफ हटाने में भी करते हैं, लेकिन आप यह बात नहीं जानते होगे कि प्याज के जूस का सेवन करने से आप कई खतरनाक बीमारियों से बच सकते हैं। प्याज के जूस में भरपूर मात्रा में विटामिन सी, बी6 , फोलिक एसिड के साथ कैल्शियम, मैग्नीशियम, आयरन और फॉस्फोरस पाया जाता है।

 प्याज का जूस पीने के बेहतरीन स्वास्थ्य लाभ है
सर्दी-जुकाम
अगर आप सर्दी-जुकाम से परेशान हैं तो प्याज का रस, शहद को मिलाकर इसका सेवन करें। इससे बुखार में भी लाभ मिलेगा।

ब्लड शुगर को करें कंट्रोल

प्याज के जूस में क्रोमियम नामक तत्व पाया जाता है जो आपको ब्लड शुगर लेवर को कंट्रोल करने में मदद करता है। इसलिए नियमित रूप से प्याज का जूस जरूर पिएं।

पाचन तंत्र को रखें फिट
प्याज में अधिक मात्रा में फाइबर पाया जाता है जो आंतों में मौजूद स्वस्थ्य बैक्टीरिया के लिए भोजन का काम करता है। जिससे आपका पाचन तंत्र ठीक ढंग से काम करता है।

एलर्जी से बचाए: 

प्याज में प्राकृतिक रूप से एंटीहिस्टामाइन क्वरेटिन मौजूद होता है जो अस्थमा और अन्य एलर्जी से रोकथाम करता है। प्याज में मौजूद क्वरेटिन को आंतें जल्दी अवशोषित कर लेती हैं। प्याज के जूस का सेवन शरीर के लिए फायदेमंद होता है।

लू से बचाएं
गर्मियों के मौसम में लू से बचने के लिए कच्चा प्याज खाना काफी कारगर है। वहीं अगर आपको लू लग गई हैं तो प्याज का जूस का सेवन करें और इसे तलवों से मलें। इससे लाभ मिलेगा।

ब्लड सर्कुलेशन रखें ठीक
प्याज में भरपूर मात्रा में सल्फर पाया जाता है जो ब्लड सर्कुलेशन को मेंटेन रखने में मदद करता है।

ब्लड प्रेशर को करें कंट्रोल
प्याज में भरपूर मात्रा में मैग्नीशियम पाया जाता है जो ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करना का प्रभावी तरीका है। इसलिए इस बीमारी से पीड़ित प्याज के जूस का सेवन करें।

दिमाग करें तेज
प्याज के जूस में अधिक मात्रा में ओमेगा-3 फैटी एसिड पाया जाता है जो दिमाग को शांत रखने के साथ-साथ तेज करने में मदद करता है।

शरीर की सूजन को कम करने में करें मदद
शरीर की सूजन को कम करने के लिए भी प्याज का इस्तेमाल किया जा सकता है। इसके अलावा जूस के रूप में इसका किया गया सेवन काफी लाभदायक असर भी दिखाता है। प्याज के जूस में मौजूद एंटी इन्फ्लेमेटरी की मात्रा खून में तुरंत घुल जाती है और वह शरीर में सूजन से प्रभावित जगह को ठीक करने के लिए बड़ी तेजी से कार्य करती है।

I think all aspiring and professional writers out there will agree when I say that ‘We are never fully satisfied with our work. We always feel that we can do better and that our best piece is yet to be written’.
View all posts

Leave a Reply