IPL में हैदराबाद सनसनीखेज मुकाबले में चार रन से जीता

ShahTimesNews
Image Credit: ShahTimesNews

अबू धाबी   कामयाब गेंदबाजी की बदौलत सनराइजर्स हैदराबाद ने यहां बुधवार को रोमांचक आईपीएल मुकाबले में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु को चार रन से हरा दिया।


हैदराबाद ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में सात ओवर में 141 रन बनाए। जवाब में बेंगलुरु की टीम 20 ओवर में छह विकेट पर 137 रन बना पाई, हालांकि पूरे मैच रोमांचक रहा। मैच कभी भी किसी एक टीम के पक्ष में नहीं मुड़ा। चुनौतीपूर्ण लक्ष्य का पीछे करने उतरे बेंगलुरु के सलामी बल्लेबाजों विराट कोहली और देवदत्त पडिकल को अच्छी शुरुआत नहीं मिली। कप्तान विराट कोहली पहले ओवर की आखिरी गेंद पर भुवनेश्वर का शिकार बने। वह पांच रन बना कर आउट हुए। छह के स्कोर पर पहला विकेट गिरने के बाद ऊपर बल्लेबाजी करने आए डेनियल क्रिश्यिचन भी कुछ नहीं कर पाए और एक रन बना कर डग आउट लौटे। 18 के स्कोर पर उनका विकेट गिरा। इसके बाद पडिकल ने श्रीकर भरत के साथ मिल कर पारी को आगे बढ़ाया, लेकिन भरत 10 गेंदों पर 12 रन बना कर आउट हो गए।


श्रीकर के रूप में तीसरा विकेट गिरने के बाद ग्लेन मैक्सवेल क्रीज पर आए और आते ही ताबड़तोड़ बल्लेबाजी की। मैक्सवेल ने तीन चौकों और दो चौकों की 25 गेंदों पर 40 रन की विस्फोटक पारी खेली। उनकी बल्लेबाजी से बेंगलुरु की स्थिति मजबूत हुई, लेकिन वह रन आउट हो गए और यहां से मैच और राेमांचक हुआ। इसके बाद पडिकल और एबी डिविलियर्स ने पारी को संभाला। इस बीच पडिकल भी 52 गेंदों पर 41 रन की धीमी पारी खेल कर आउट हो गए। अंत में डिविलियर्स और शाहबाद अहमद ने संघर्ष किया और मैच को अंतिम ओवर तक पहुंचाया। बेंगलुरु को जीत के लिए आखिरी ओवर में 13 रन की जरूरत थी, लेकिन इस ओवर में आठ ही रन आ पाए।


हैदराबाद की गेंदबाजी अच्छी रही। सभी गेंदबाज सफल और किफायती रहे। भुवनेश्वर कुमार ने चार ओवर में 25 रन देकर एक, जेसन होल्डर ने चार ओवर में 27 रन देकर एक, सिद्धार्थ कौल ने चार ओवर में 24 रन देकर एक, उमरान मलिक ने चार ओवर में 21 रन देकर एक और राशिद खान ने चार ओवर में 39 रन देकर एक विकेट लिया। हैदराबाद के कप्तान विलियमसन को 31 रन की पारी के लिए ‘प्लेयर ऑफ द मैच’ पुरस्कार दिया गया।


इस हार के साथ बेंगलुरु की टॉप दो में ग्रुप चरण अभियान समाप्त करने की उम्मीद को झटका लगा है। बेंगलुरु के पास अब एक मैच ही बचा है और इसमें जीत के साथ वह अधिकतम 18 अंक तक पहुंच सकता है। बेंगलुरु की हार से दिल्ली के टॉप दो में ही रहने की पुष्टि हो गई है।

दरअसल नंबर एक दिल्ली और नंबर दो चेन्नई के पास भी एक-एक मैच बचा है। दिल्ली कैपिटल्स अगर अपना आखिरी मैच जीतता है तो वह 22 अंक पर पहुंच जाएगा, जबकि चेन्नई जीत के साथ 20 अंक पर पहुंच जाएगा, लेकिन अगर चेन्नई अपना आखिरी मैच हारता है और बेंगलुरु जीतता है तो फिर नेट रन रेट भूमिका निभाएगा और अभी बेंगलुरु का नेट रन रेट चेन्नई के मुकाबले बहुत खराब है। ऐसे में बेंगलुरु की टॉप दो में फिनिश करने की उम्मीदें बहुत कम हैं।

Shah Times is a Daily Newspaper & Website brings the Latest News & Breaking News Headlines from India & around the World. Read Latest News Today on Sports, Business, Health & Fitness, Bollywood & Entertainment, Blogs & Opinions from leading columnists.
View all posts

Leave a Reply