उत्तर प्रदेश सरकार के चार साल बेमिसाल

ShahTimesNews
Image Credit: ShahTimesNews

लखनऊ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सरकार के सफलतापूर्वक चार वर्ष पूर्ण होने के अवसर पर आयोजित विशेष प्रेसवार्ता को संबोधित करते हुए कहा मैं अपनी पूरी टीम की ओर से आप सभी का स्वागत करता हूं। मैं सभी 24 करोड़ प्रदेशवासियों का अभिनंदन करते हुए उन्हें बधाई देता हूं।

मुझे हार्दिक संतुष्टि की अनुभूति है कि आज ही के दिन 04 वर्ष पहले उ.प्र. का दायित्व हमारी सरकार ने संभाला था।  प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी व केन्द्रीय मंत्रिमंडल की मदद से हमने प्रदेश में कई परिवर्तन किए हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा प्रदेश में जब अर्थव्यवस्था, निवेश अनुकूल वातावरण, प्रति व्यक्ति आय की बात आती थी तो हम प्रथम 03 स्थानों में भी नहीं टिकते थे। प्रदेश में बेरोजगारी भी ज्यादा थी। आज प्रदेश निवेश अनुकूल वातावरण बनाने में सफल रहा है।प्रदेश की अर्थव्यवस्था जो पहले पांचवें, छठवें स्थान पर थी, आज वह दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था के रूप में उभरी है। प्रदेश में इंफ्रास्ट्रक्चर, लोक कल्याण, MSME, कृषि के क्षेत्र में हुए कार्यों के सार्थक परिणाम सामने आए हैं।

चार सालों की इस यात्रा ने उत्तर प्रदेश के overall perception को बदल दिया। प्रदेश के बारे में देश और दुनिया में एक सकारात्मक माहौल देखने को मिला है। इस कार्य में हमें प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का मार्गदर्शन प्राप्त हुआ।

 आज प्रदेश देश में नए भारत के नए उत्तर प्रदेश के रूप में उभरा है। यह वही प्रदेश है, जहां 04 वर्ष पहले तक केन्द्र की किसी योजना का स्थान नहीं होता था। यह योजनाएं ही आज नागरिकों के जीवन में व्यापक परिवर्तन का कारक बन रही हैं। 

उत्तर प्रदेश सरकार के सफलतापूर्वक चार वर्ष पूर्ण होने के अवसर पर आयोजित समारोह एवं प्रदेश स्तरीय 'विकास पुस्तिका' का विमोचन एवं प्रेसवार्ता करते #UPCM श्री @myogiadityanath जी... #योगीजी_के_4_साल_बेमिसाल https://t.co/Es2YKokY9I

— CM Office, GoUP (@CMOfficeUP) March 19, 2021

प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी एवं ग्रामीण) में उत्तर प्रदेश देश में पहले स्थान पर है। विश्व के सबसे बड़े अभियान स्वस्थ भारत मिशन के अंतर्गत उत्तर प्रदेश में 2.61 करोड़ से अधिक शौचालयों का निर्माण किया गया है।

खाद्यान्न उत्पादन में भी प्रदेश ने बेहतर प्रदर्शन किया। हमने किसानों के हितों के लिए कार्य प्रारम्भ किए हैं। सॉयल हेल्थ कार्ड, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई जैसी योजनाएं प्रदेश में लागू हुई हैं।

उत्तर प्रदेश सरकार ने 2017 से जो कार्यपद्धति आगे बढ़ाई है उसका परिणाम है कि 04 वर्षों के दौरान सरकार ₹1,27,000 करोड़ से अधिक का गन्ना भुगतान करने में सफल रही है। हमने कोरोना काल में सभी 119 चीनी मिलों का सफलतापूर्वक संचालन किया।

पुलिस रिफॉर्म में भी हमने अच्छे कार्य किए हैं। वर्षों से पुलिस कमिश्नरी सिस्टम की मांग को लागू करने में सफल रहे हैं। लखनऊ व गौतमबुद्ध नगर पुलिस कमिश्नरी सिस्टम से जुड़े हुए हैं प्रदेश में 59 नए थाने, 29 नई चौकियां, 04 नए महिला थाने, आर्थिक अपराध शाखा के 04 नए थाने, विजिलेंस के 10 नए थाने, साइबर क्राइम के 16 नए थाने व अग्निशमन के 59 नए केन्द्रों की स्थापना की गई है। 

उत्तर प्रदेश सरकार की अपराध और अपराधियों के प्रति जीरो टॉलरेंस की नीति का परिणाम रहा है कि प्रदेश में डकैती, लूट, हत्या, बलवा और बलात्कार की घटनाओं में कमी आई है।

प्रदेश में 20 नए कृषि विज्ञान केन्द्रों की स्थापना की गई है। प्रधानमंत्री किसान सिंचाई योजना के अंतर्गत दशकों से लंबित परियोजनाओं को पूरा किया गया है। साथ ही लंबित 11 सिंचाई परियोजनाएं पूरी हो चुकी हैं।
हमारी सरकार ने मुसहर गांव में बुनियादी सुविधाएं, थारू व कोल समुदाय के गांवों में आवास उपलब्ध कराने का कार्य किया है।

विद्युत व्यवस्था को बेहतर करने का काम उत्तर प्रदेश सरकार ने किया है। जिला मुख्यालय को 24 घंटे, तहसीलों को 20-22 घंटे, ग्रामीण क्षेत्रों में 16-18 घंटे विद्युत आपूर्ति हो रही है। 1.21 लाख गांवों तक बिजली पहुंचाने का काम किया गया है: 

प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना के अंतर्गत प्रदेश में 02 लाख से अधिक भूस्वामियों को उनके मकान के कागजात उपलब्ध कराए गए। वरासत अभियान से 8.87 लाख से अधिक मामलों का निस्तारण किया गया है।

 मुख्यमंत्री ने कहा मुझे बताते हुए प्रसन्नता है कि पिछले 04 वर्ष के दौरान प्रदेश में 03 लाख करोड़ से अधिक का निवेश हुआ है। 35 लाख से अधिक युवाओं को इससे नौकरी/रोजगार प्राप्त हुआ है।

परम्परागत उद्यम को प्रोत्साहित करने के लिए यूपी ओडीओपी  की योजना आज देश-दुनिया में बेहद लोकप्रिय है। इसने परम्परागत उद्यम को नई उड़ान व पहचान दी है। इससे प्रदेश के एक्सपोर्ट को बढ़ाने में मदद मिली है।
जारी......


I think all aspiring and professional writers out there will agree when I say that ‘We are never fully satisfied with our work. We always feel that we can do better and that our best piece is yet to be written’.
View all posts

Leave a Reply