राणा और ललित के दम पर दिल्ली सेमीफाइनल मंे

ShahTimesNews
Image Credit: ShahTimesNews

महाराष्ट्र सरकार ने कोरोना के रोकथाम के लिए सोमवार को बड़ा फैसला लिया है। इसके मुताबिक अब दिल्ली, राजस्थान, गोवा और गुजरात से महाराष्ट्र जाने वालों के लिए कोविड-19 निगेटिव रिपोर्ट अनिवार्य कर दिया गया है। बगैर कोविड निगेटिव रिपोर्ट के इन राज्यों से महाराष्ट्र पहुंचने वालों को एंट्री नहीं दी जाएगी। राज्य सरकार ने कहा कि महाराष्ट्र आने वाले सभी लोगों को कोविड-19 प्रोटोकॉल का भी पालन करना होगा। बगैर मास्क दिखने पर जुर्माना देना होगा।

दिल्ली में मोबाइल वैन शुरू

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्ष वर्धन ने सोमवार को राजधानी दिल्ली में मोबाइल वैन RT-PCR लैब की शुरुआत की। ICMR की यह मोबाइल वैन लैब कंटेनमेंट जोन के पास लगाई जाएगी। यहां कोई भी 499 रुपए देकर कोरोना की जांच करा सकेगा। इसकी रिपोर्ट भी महज 6 घंटे के अंदर आ जाएगी।

वहीं, दिल्ली में ITBP के कोविड-19 केयर सेंटर में बेड की क्षमता 2 हजार से बढ़ाकर 3 हजार की जाएगी। ITBP के डायरेक्टर जनरल एसएस देसवाल ने यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि इस कोविड केयर सेंटर में दिल्ली-एनसीआर के मरीजों का इलाज होगा। जो एक हजार नए बेड तैयार किए जा रहे हैं, उनमें ऑक्सीजन सप्लाई की सुविधा भी होगी।

टेस्टिंग में कमी आई

देश में टेस्टिंग में भी कमी आई है। रविवार को 8.49 लाख टेस्ट किए गए। 12 नवंबर के बाद से यह छठवीं बार है, जब 10 लाख से कम टेस्ट किए गए। इससे पहले 13 नवंबर को 9.29 लाख, 14 नवंबर को 8.05 लाख, 15 नवंबर को 8.61 लाख, 16 नवंबर को 8.44 लाख और 17 नवंबर को 9.37 लाख टेस्ट किए गए। ये आंकड़े covid19india.org से लिए गए हैं।

मरीजों का आंकड़ा 91.40 लाख

देश में अब तक 91 लाख 40 हजार 980 लोग संक्रमित हो चुके हैं। इनमें से 85 लाख 61 हजार 444 लोग ठीक हो चुके हैं। 1 लाख 33 हजार 790 मरीजों की मौत हो चुकी है। 4 लाख 43 हजार 684 मरीजों का अभी इलाज चल रहा है।

3 अक्टूबर से अब तक 3 बार बढ़े एक्टिव केस

देश में रविवार को 2480 एक्टिव केस बढ़े। यह आंकड़ा 2 अक्टूबर के बाद सबसे ज्यादा है। 3 अक्टूबर से 22 नवंबर के बीच सिर्फ तीन बार ही एक्टिव केस में बढ़ोतरी दर्ज की गई है। इससे पहले 19 नवंबर को 344 और 21 नवंबर को 732 एक्टिव केस बढ़े।

ऐसे निकलते हैं एक्टिव केस

एक्टिव केस मतलब ऐसे मरीज जिनका इलाज चल रहा है। देश में अभी ऐसे मरीजों की कुल संख्या 4 लाख 43 हजार 864 है। इन मरीजों की संख्या हर दिन मिलने वाले कुल संक्रमितों में से उस दिन होने वाली रिकवरी और जान गंवाने वालों की संख्या को घटाया जाता है।

उदाहरण के लिए रविवार को देश में कुल 44 हजार 404 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए। 41 हजार 405 मरीज ठीक हुए और 510 की मौत हो गई। अब रविवार को एक्टिव केस घटे या बढ़े ये जानने के लिए 44 हजार 404 में से रिकवर हुए 41 हजार 405 और जान गंवाने वाले 510 मरीजों की संख्या घटा दीजिए। रिजल्ट 2480 आता है। मतलब रविवार को इतने ही एक्टिव केस बढ़े हैं।

 

Tags:

I think all aspiring and professional writers out there will agree when I say that ‘We are never fully satisfied with our work. We always feel that we can do better and that our best piece is yet to be written’.
View all posts

Leave a Reply