दिल्ली गवर्नमेंट ने हॉस्पिटल्स में कोविड मरीजों के लिए बिस्तरों में किया इजाफा

ShahTimesNews
Image Credit: ShahTimesNews


नयी दिल्ली दिल्ली सरकार ने कोरोना वायरस (कोविड-19) के मामलों में वृद्धि के मद्देनजर अस्पतालों में बिस्तरों की वृद्धि करने के साथ की कई अस्पतालों को पूरी तरह से कोविड अस्पताल में तब्दील करने का फैसला लिया है। 


मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को कोरोना से उत्पन्न स्थिति पर समीक्षा बैठक की। इस दौरान उन्होंने कोविड-19 से ग्रसित मरीजों के लिए अस्पतालों में बिस्तरों की संख्या बढ़ाने तथा कई अस्पतालों में पूर्ण रूप से कोविड अस्पताल में तब्दील करने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए हम कई कदम उठा रहे हैं, जिनमें सरकारी तथा निजी अस्पतालों में कोविड मरीजों के लिए बिस्तरों की संख्या को बढ़ाने जैसे कदम शामिल हैं। 

CM @ArvindKejriwal holds emergency COVID review meeting

➡️Instructs increase in COVID beds in all Govt & Private hospitals

➡️Many Private & Govt hospitals to be turned into fully COVID hospitals

"Follow COVID protocols, don’t rush to hospitals, vaccinate if eligible: @CMODelhi pic.twitter.com/kXzxyXk0Qx

— AAP (@AamAadmiParty) April 12, 2021

इस दौरान लोगों से सहयोग करने की अपील करते हुए उन्होंने कहा कि घबराएं नहीं, बल्कि कोरोना को लेकर तय किए गए प्रोटोकॉल का पालन करें। उन्होंने कहा कि जब तक जरूरी न हो अस्पताल न जाए। साथ ही उन्होंने लोगों से अपील की कि यदि आप वैक्सीन लगवाने के पात्र हैं, तो वैक्सीन अवश्य लगावाएं।

 

बैठक में दिल्ली से स्वास्थ्यमंत्री सत्येंद्र जैन तथा प्रदेश के स्वास्थ्य सचिव सहित तमाम आला अधिकारी शामिल हुए।

 

उल्लेखनीय है कि दिल्ली सरकार कोरोना की रोकथाम के लिए 30 अप्रैल तक नाइट कर्फ्यू लगाने के अलावा में कई तरह की पाबंदिया लगा चुकी है। यहां पर पिछले 24 घंटों के दौरान इस संक्रमण के 10,774 नये मामले सामने आने के बाद संक्रमितों की संख्या 7,25,197 तक पहुंच गयी है जबकि 5,158 और मरीजों के स्वस्थ होने से कोरोना मुक्त होने वाले लोगों का आंकड़ा बढ़कर 6,79,573 हो गया है। वहीं इस दौरान 48 और मरीज की मौत होने से मृतकों की 11,283 पहुंच गयी है।

I think all aspiring and professional writers out there will agree when I say that ‘We are never fully satisfied with our work. We always feel that we can do better and that our best piece is yet to be written’.
View all posts

Leave a Reply