मातृभूमि की रक्षा करने वाले सशस्त्र सेनाओं के जांबाजों किया गया सम्मानित

ShahTimesNews
Image Credit: ShahTimesNews

नई दिल्ली   राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने अदम्य साहस और वीरता से मातृभूमि की रक्षा करने वाले सशस्त्र सेनाओं के जांबाजों को आज यहां दो कीर्ति चक्र, एक वीर चक्र और दस शौर्य चक्र पुरस्कारों से सम्मानित किया जिनमें वायु सेना के ग्रुप कैप्टन अभिनंदन वर्धमान को बालाकोट स्ट्राइक के लिए वीर चक्र तथा सेना के सैपर प्रकाश जाधव को कीर्ति चक्र प्रदान किया गया।


 राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने सोमवार को राष्ट्रपति भवन में आयोजित रक्षा अलंकरण समारोह में वीरता पुरस्कारों के साथ-साथ 14 सैन्यकर्मियों को परम विशिष्ट सेवा पदक , दो को उत्तम सेवा पदक और 26 को अति विशिष्ट सेवा पदक से सम्मानित किया। तीन जांबाजों को ये पुरस्कार मरणापरांत दिये गये हैं।


समारोह में ग्रुप कैप्टन वर्धमान को युद्धकाल में वीरता के लिए तीसरे सर्वोच्च पुरस्कार वीर चक्र से सम्मानित किया गया। पुलवामा आतंकवादी हमले के जवाब में वायु सेना के लड़ाकू विमानों ने 26 फरवरी 2019 को सीमा पार आतंकवादियों के ठिकानों पर मुस्तैदी से की गयी सीमित कार्रवाई में बड़ी संख्या में आतंकवादियों को मार गिराया था। इसके जवाब में पाकिस्तान के लड़ाकू विमानों ने 27 फरवरी 2019 को भारतीय ठिकानों पर हमले की कोशिश की। इस दौरान आकाश में लड़ाकू विमानों के बीच हुए टकराव के दौरान ग्रुप कैप्टन वर्धमान ने पाकिस्तान के एफ 16 विमान को मार गिराया था। इसी बीच एम मिसाइल हमले में वर्धमान का विमान भी गिर गया जिससे उसे पैराशूट से पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में उतरना पड़ा जहां उन्हें हिरासत में ले लिया गया । हालाकि बाद में भारतीय कूटनीतिक और सैन्य दबाव के चलते पाकिस्तान को उन्हें छोड़ना पड़ा।


जम्मू कश्मीर में आतंकवादियों से लोहा लेते हुए सर्वोच्च बलिदान देने वाले सेना के सैपर प्रकाश जाधव (मरणोपरांत) और केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल के उप कमांडेंट हर्षपाल सिंह को शांतिकाल में वीरता के लिए दिये जाने वाले दूसरे सर्वोच्च सम्मान कीर्ति चक्र से सम्मानित किया गया।


राष्ट्रीय राइफल्स के मेेजर विभूति शंकर ढौंडियाल (मरणोपरांत) , नायब सूबेदार सोमबीर (मरणोपरांत), लेफ्टिनेंट कर्नल अजय सिंह कुशवाहा, कैप्टन मेहश कुमार भूरे, नायक नरेश कुमार , आलोक कुमार दुबे, असम राइफल्स के मेजर बिजेन्द्र सिंह , लेफ्टिनेंट कर्नल ज्योति लामा , पैराशूट रेजिमेंट के नायब सूबेदार नरेन्द्र सिंह और ऑपरेशन रक्षक में एलएमई अमित राणा को शांति काल में वीरता के लिए दिये जाने वाले तीसरे सर्वोच्च सम्मान शौर्य चक्र से सम्मानित किया गया।


इसके अलावा विशिष्ट सेवा के लिए 14 सैन्यकर्मियों को परम विशिष्ट सेवा पदक , दो को उत्तम सेवा पदक और 26 को अति विशिष्ट सेवा पदक से सम्मानित किया गया।
इन पुरस्कारों की घोषणा पहले ही की जा चुकी थी और राष्ट्रपति कोविंद ने आज ये पुरस्कार विधिवत रूप से प्रदान किए।

Shah Times is a Daily Newspaper & Website brings the Latest News & Breaking News Headlines from India & around the World. Read Latest News Today on Sports, Business, Health & Fitness, Bollywood & Entertainment, Blogs & Opinions from leading columnists.
View all posts

Leave a Reply