HomeControversyकॉलेज में बुर्का पहनकर आने पर पाबंदी, मुखालफत के बाद दी गई...

कॉलेज में बुर्का पहनकर आने पर पाबंदी, मुखालफत के बाद दी गई इजाज़त

Published on

संविधान ने व्यक्तिगत स्वतंत्रता और शिक्षा का मौलिक अधिकार देश के हर नागरिक को दिया है। 11वीं और 12वीं क्लास के विद्यार्थियों के लिए शिक्षा विभाग ने कोई ड्रेस कोड निर्धारित नहीं किया है

मुंबई । मुंबई (Mumbai) के चेंबूर स्थित आचार्य मराठे कॉलेज (Acharya Marathe College) ने स्टूडेंट्स को बुरका पहनकर कॉलेज कैंपस में दाखिल होने से रोका लेकिन स्टूडेंट्स के मुखलफात और सीनियर पुलिस ऑफिसर्स के मुखालफत के बाद कैंपस में दाखिले की इजाज़त दे दी गई।

पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि चेंबूर में स्थित कॉलेज की सिक्यॉरिटी ने स्टूडेंट्स को दाखिल करने से पहले अपना बुरका उतारने को कहा क्योंकि कॉलेज की अपनी यूनिफॉर्म है। यहां नकाब, हिजाब और बुरका में लड़कियों को दाखिला नहीं देने का वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो गया।

इसके बाद कॉलेज मैनेजमेंट की तरफ से पूरे मामले में स्पष्टीकरण दिया गया और मुस्लिम समाज की लड़कियों को कॉलेज में प्रवेश के लिए नियमों में शिथिलता दी है। आचार्य मराठे कॉलेज (Acharya Marathe College) के प्रिंसिपल विद्यागौरी लेले ने कहा कि लड़कियों को नकाब, हिजाब और बुरका में प्रवेश दिया जाएगा। इसके बाद उन्हें वॉशरूम में जाकर नकाब, हिजाब और बुरका बदलना होगा। कॉलेज परिसर में स्टूडेंट्स को यूनिफॉर्म में ही रहना होगा।

बताया जा रहा है कि सिक्यॉरिटी के प्रवेश देने से मना करने पर विवाद पैदा हो गया। लड़कियों के माता-पिता भी कॉलेज पहुंच गए और गेट के बाहर के वीडियो सोशल मीडिया (Social media) पर वायरल होने लगे। मामला बढ़ने पर सीनियर पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे और छात्राओं के परिजनों व कॉलेज प्राधिकारियों के साथ मुद्दे पर चर्चा की।

दैनिक शाह टाइम्स अपने शहर के ई-पेपर पढने के लिए लिंक पर क्लिक करें

आचार्य मराठे कॉलेज (Acharya Marathe College) के प्रिंसिपल विद्यागौरी लेले ने कहा कि 15 जून से 31 जून तक शिक्षक, वॉट्सऐप और अन्य माध्यमों से विद्यार्थियों को यूनिफॉर्म को लेकर सूचित किया गया था। एक अगस्त से यह यूनिफॉर्म लागू कर दिया गया था।

विधायक अबू आसिम आजमी और पूर्व मंत्री नसीम खान ने पत्र लिखकर कार्रवाई की मांग की है। नसीम खान ने अपने पत्र में लिखा है कि महाराष्ट्र (Maharashtra) प्रगतिशील विचारों का राज्य है। संविधान (Constitution) ने व्यक्तिगत स्वतंत्रता और शिक्षा का मौलिक अधिकार देश के हर नागरिक को दिया है। 11वीं और 12वीं क्लास के विद्यार्थियों के लिए शिक्षा विभाग ने कोई ड्रेस कोड निर्धारित नहीं किया है, इसके बावजूद एनजी आचार्य महाविद्यालय ने ड्रेस कोड लादने का फैसला लिया है।

#ShahTimes

Latest articles

साउथ सुपरस्टार राम चरण डॉक्टरेट की डिग्री पाने वाले सबसे कम उम्र एक्टर

ग्लोबल स्टार साउथ सुपरस्टार राम चरण बने सब से यंग एज में डॉक्टरेट की...

बीजेपी ने लोकसभा चुनावों का संकल्प पत्र ‘मोदी की गारंटी 2024’ किया जारी

संकल्प पत्र में देश में गरीब कल्याण योजनाओं एवं विकसित भारत के संकल्प को...

ईरान ने कहा यूएन चार्टर की बुनियाद पर इज़रायल के खिलाफ मिलिट्री एक्शन

  इजरायल के खिलाफ देश की सैन्य कार्रवाई आत्मरक्षा के वैध अधिकार के संबंध में...

सलमान खान के घर के बाहर 3 राउंड फायरिंग

सलमान खान के बांद्रा स्थित गैलेक्सी अपार्टमेंट के बाहर दो अज्ञात लोगों ने फायरिंग...

Latest Update

साउथ सुपरस्टार राम चरण डॉक्टरेट की डिग्री पाने वाले सबसे कम उम्र एक्टर

ग्लोबल स्टार साउथ सुपरस्टार राम चरण बने सब से यंग एज में डॉक्टरेट की...

बीजेपी ने लोकसभा चुनावों का संकल्प पत्र ‘मोदी की गारंटी 2024’ किया जारी

संकल्प पत्र में देश में गरीब कल्याण योजनाओं एवं विकसित भारत के संकल्प को...

ईरान ने कहा यूएन चार्टर की बुनियाद पर इज़रायल के खिलाफ मिलिट्री एक्शन

  इजरायल के खिलाफ देश की सैन्य कार्रवाई आत्मरक्षा के वैध अधिकार के संबंध में...

सलमान खान के घर के बाहर 3 राउंड फायरिंग

सलमान खान के बांद्रा स्थित गैलेक्सी अपार्टमेंट के बाहर दो अज्ञात लोगों ने फायरिंग...

कांग्रेस न्याय पत्र, सभी के लिए न्याय व विकास की गारंटी

कांग्रेस राष्ट्रीय महासचिव अविनाश पाण्डेय ने इंडिया गठबंधन के कांग्रेस प्रत्याशी इमरान मसूद के...

नंदी स्वीट्स पर मिला खराब ढोकला,जाँच को पहुंची टीम के सामने हंगामा    

     मुजफ्फरनगर शहर के कोर्ट रोड स्थित नंदी स्वीट्स पर खराब ढोकले को लेकर ग्राहक...

मुजफ्फरनगर लोकसभा चुनाव का सियासी रुझान

वेस्ट यूपी की मुजफ्फरनगर लोकसभा सीट पर सपा,बसपा और भाजपा मजबूती से चुनाव लड़...

पड़ोसी देश में आतंकवादी हमले में 11 की मौत

एन -40 राष्ट्रीय राजमार्ग को अवरुद्ध कर दिया। एक वाहन के नहीं रुकने पर...

बच्चे पूछेंगे कौन थी कॉंग्रेस ??

लोकसभा चुनाव प्रचार के लिए उत्तराखंड के दौरे पर पहुंचे देश के रक्षा मंत्री...
error: Content is protected !!