HomeInternationalकतर जेल में बंद फांसी की सजा पाए 8 पूर्व भारतीय नौसैनिक...

कतर जेल में बंद फांसी की सजा पाए 8 पूर्व भारतीय नौसैनिक कौन हैं, कैसे हुई रिहाई

Published on

दिल्ली (जोया गौरी)। कतर जेल में बंद आठ पूर्व भारतीय नौसैनिकों को रिहाई मिल गई हैं, भारतीय नौसैनिकों को कतर में जासूसी के आरोप में फांसी की सजा सुनाई गई जिसे बाद में उम्रकैद की सजा कर दी गई थी लेकिन भारत के दखल के बाद कतर ने सजा को माफ कर दिया। अब पूर्व नौसैनिकों को कतर ने रिहा कर दिया। 8 में से 7 नौसैनिक भारत पहुंच चुके हैं। कतर के दहरा ग्लोबल कंपनी के लिए काम करने वाले नौसैनिकों की रिहाई के फैसले का भारत के विदेश मंत्रालय ने स्वागत किया है।

कतर में 8 पूर्व नौसेना अफसरों को मौत की सजा दी गई थी कैप्टन नवतेज सिंह गिल, कैप्टन सौरभ वशिष्ठ, कैप्टन बीरेंद्र कुमार वर्मा, कमांडर पूर्णेन्दु तिवारी, कमांडर सुग्नाकर पकाला, कमांडर संजीव गुप्ता, कमांडर अमित नागपाल और सेलर रागेश शामिल थे । कतर और भारत दोनों देशों के बीच मैत्रीपूर्ण, मजबूत व्यापारिक रिश्ते हैं । भारत कतर के साथ इस मुद्दे पर बातचीत करता रहा है। पीएम मोदी ने दुबई में आयोजित सीओपी 28 सम्मेलन के इतर कतर के अमीर शेख से मुलाकात की थी।

व्हाट्सएप पर शाह टाइम्स चैनल को फॉलो करें

पूर्व नौसैनिकों ने पीएम मोदी का धन्यवाद किया और कहा की पीएम मोदी के हस्तक्षेप एवं वैश्विक स्तर पर भारत की बढ़ती साख का परिणाम है भारत लौटना संभव नहीं होता। भारतीय नौसैनिक कतर की नौसेना को ट्रेनिंग देने वाली कंपनी दहरा ग्लोबल में काम करते थे। पूर्व नौसैनिकों पर कतर के सबमरीन प्रोजेक्ट से जुड़ी इनफॉर्मेशन इजराइल को देने का आरोप लगा था। लेकिन कतर ने आरोप सार्वजनिक नहीं किए थे । दाहरा कंपनी में प्रबंध निदेशक सेवानिवृत्त कमांडर पूर्णेन्दु तिवारी को भारत कतर के बीच संबंधों को आगे बढ़ाने और सेवाओं के लिए 2019 में प्रवासी भारतीय सम्मान पुरस्कार मिला था।

बीबीसी की एक रिपोर्ट के मुताबिक कंपनी सबमरीन प्रोग्राम में क​तर की नौसेना के लिए काम कर रही थी इस प्रोग्राम का मकसद रडार से बचने वाले हाईटेक इतालवी तकनीक पर आधारित सबमरीन हासिल करना था। पिछले साल कतर ने कंपनी को बंद करने का आदेश दिया था और इसके लगभग 70 कर्मचारियों को पिछले साल ही मई के अंत तक देश छोड़ने का निर्देश दिया गया था। इनमें ज़्यादातर भारतीय नौसेना के पूर्व नौसैनिक थे।

पूर्व नौसैनिकों की रिहाई ऐसे समय हुई जब भारत और कतर के बीच गैस को लेकर एक समझौता हुआ है। समझौते के तहत भारत कतर से एलएनजी खरीदेगा। यह समझौता 20 सालों के लिए है जिसकी कीमत 78 अरब डॉलर है। कतर हर साल भारत को 75 लाख टन गैस निर्यात करेगा इस गैस से भारत में बिजली, उर्वरक और सीएनजी का उत्पादन किया जाएगा।

विदेश मंत्रालय ने कहा था कि इस मामले में कार्यवाही की गोपनीय और संवेदनशील प्रकृति के कारण,टिप्पणी करना उचित नहीं होगा।’ सरकार कतर में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कूटनीतिक रणनीतियों के साथ घरेलू स्तर पर भी काम कर रही थी कतर में भारत सरकार का पक्ष रखने में भारत के पूर्व राजदूत दीपक मित्तल की बड़ी भूमिका रही, कतर में मार्च तक भारतीय राजदूत के रूप में काम कर रहे थे। विदेश मंत्री ने मौत की सजा पाए पूर्व नौसैनिकों के परिवारों से मुलाकात कर उन्हें आश्वासन देते हुए कहा था कि सरकार उनकी रिहाई को सुरक्षित करने के लिए हर संभव प्रयास करेगी। पूर्व भारतीय नौसैनिकों को रिहा करने के लिए केंद्र सरकार से लगातार कांग्रेस, एआईएमआईएम और अन्य विपक्षी दल भारतीय नौसैनिकों की भारत वापसी के लिए मांग कर रही थी।

#ShahTimes

Latest articles

पेपर लीक करने और कराने वालों के खिलाफ़ कानून बनाया जाए

लखनऊ,(Shah Times)। कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म...

“हम नहीं सुधरेंगे” फ़िल्म में सारे भोजपुरी हास्य कलाकार एक साथ

चाँदनी सिंह ने ऐसा सबक सिखाया तो अब लोग कहने से डरने लगे हैं...

डोनाल्ड ट्रम्प ने राष्ट्रपति पद के चुनाव में कहां से जीत हासिल की,जानिए !

  वाशिंगटन,(Shah Times) । अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने शनिवार को मिसौरी के...

परमेश्वर लाल सैनी सम्भल लोकसभा से भाजपा प्रत्याशी घोषित

संभल/ भूपेन्द्र सिंह (Shah Times) । तमाम अटकलो के बीच भाजपा ने अपने उम्मीदवारों...

Latest Update

पेपर लीक करने और कराने वालों के खिलाफ़ कानून बनाया जाए

लखनऊ,(Shah Times)। कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म...

“हम नहीं सुधरेंगे” फ़िल्म में सारे भोजपुरी हास्य कलाकार एक साथ

चाँदनी सिंह ने ऐसा सबक सिखाया तो अब लोग कहने से डरने लगे हैं...

डोनाल्ड ट्रम्प ने राष्ट्रपति पद के चुनाव में कहां से जीत हासिल की,जानिए !

  वाशिंगटन,(Shah Times) । अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने शनिवार को मिसौरी के...

परमेश्वर लाल सैनी सम्भल लोकसभा से भाजपा प्रत्याशी घोषित

संभल/ भूपेन्द्र सिंह (Shah Times) । तमाम अटकलो के बीच भाजपा ने अपने उम्मीदवारों...

राजकीय महाविद्यालय देवभूमि उद्यमिता केंद्र में 12 दिवसीय ई डी पी कार्यक्रम

कोटद्वार,(Shah Times) । राजकीय महाविद्यालय कंवघाटी कोटद्वार देवभूमि उद्यमिता केंद्र में 12दिवसीय ई...

डॉ.संजीव बालियान को मुजफ्फरनगर से भाजपा से टिकट मिलते ही भाजपाईयों ने शिव चौक पर जश्न मनाया

केंद्रीय मंत्री डॉ.संजीव बालियान की पत्नी सुनीता बालियान, प्रदेश के मंत्री कपिल देव अग्रवाल...

भाजपा ने जारी की 195 लोकसभा उम्मीदवारों की पहली लिस्ट, उत्तराखंड में इन तीन सांसदों को मिला टिकट

नई दिल्ली/आबिद सिद्दीकी (Shah Times)।बीजेपी ने लोकसभा चुनाव के लिए 195 उम्मीदवारों की पहली...

अधिवक्ता सुनील शर्मा की मौत के बाद वकीलों ने नाराजगी जताते हुए पुलिस प्रशासन का फूंका पुतला

  हड़ताल पर गए वकील, आरोपी पुलिस कर्मियों को बर्खास्त कर जेल भेजने की कर...

आकाश को ‘‘वाई श्रेणी’’ सुरक्षा, पर्दे के पीछे भाजपा एवं बसपा के गठजोड़ की तरफ इशारा है

लखनऊ ,(Shah Times) । उप्र में राज्यसभा चुनाव में बसपा का वोट भाजपा प्रत्याशी...