Shah Times

HomePoliticsदस साल बाद हरेंद्र ने तोड़ा बालियान का गुरुर

दस साल बाद हरेंद्र ने तोड़ा बालियान का गुरुर

Published on

जीत की हैट्रिक नही लगा पाए संजीव बालियान

शाह टाइम्स ब्यूरो
मुजफ्फरनगर। पश्चिम उत्तर प्रदेश की राजनैतिक दिशा तय करने वाली लोकसभा सीट मुजफ्फरनगर पर भाजपा के कमल को मुरझाते हुए हरेन्द्र मलिक ने अपने अनुभव का बेहतरीन इस्तेमाल करते हुए 24672 मतो के अंतर से सपा प्रत्याशी के रूप में जीत दर्ज कराई है। उन्हे जहां 470721 वोट मिले वहीं उनके निकटतम प्रतिद्वदी तथा दो बार के सांसद भाजपा के संजीव बालियान को 446049 वोट पर ही संतोष करना पड़ा। बसपा प्रत्याशी दारा सिंह प्रजापति ने 143707 वोट हासिल कर सबको चौकाया है।


मुजफ्फरनगर लोकसभा सीट पर आज हुई मतगणना में सपा प्रत्याशी हरेन्द्र सिंह मलिक ने दूसरे ही राउंड से बढ़त बढ़ानी शुरू कर दी थी । 16-17 और 18वें राउंड में जरूर संजीव बालियान उनसे आगे निकले, लेकिन उसके बाद हरेन्द्र मलिक निर्णायक लीड बढ़ाते चले गए। अंतिम में उन्हें 24672 वोटो से जीत मिली तो उनके समर्थकों ने ढोल बजाते हुए जमकर नारेबाजी की। प्रशासन ने जीत का जश्न मनाने पर भंले ही रोक लगाई हुई हो, लेकिन उत्साही कार्यकर्ताओं को न तो प्रशासन का भय रहा और न ही मुकदमों का। उन्होने मतगणना स्थल से हरेन्द्र मलिक के प्रेमपुरी स्थित आवास तक जोरदार जुलूस निकाला।

इस दौरान आतीशबाजी भी की गई तथा रंगगुलाल उडाकर जश्न भी मनाया गया। सपा प्रत्याशी हरेन्द्र मलिक को 470721 वोट मिले, संजीव बालियान को 446049, बसपा के दारा सिंह प्रजापति को 143707, निर्दलीय सुनीत त्यागी को 7167, कविता को 2000, शशिकांत समर को 1431, बीरबल सिंह को 1421, नील कुमार जयसमता पार्टी को 861, रेशू शर्मा को 684, अंकुर को 372, मनुज वर्मा को 340 वोट मिले। कुल डाले गए 1078669 वोटो में से 3884 मतदाताओं ने नोटा का इस्तेमाल किया। डाक मतों में सपा को 917, बीजेपी को 2234, बसपा को 384 वोट मिले।

भाजपा के संजीव बालियान ने इस लोकसभा की केवल खतौली (3012 वोट) और शहर विधानसभा (801 वोट) में ही हरेन्द्र मलिक को शिक्शत दे पाए, जबकि बुढ़ाना, चरथावल व सरधना में हरेन्द्र मलिक ने संजीव को क्रमश: 16076, 13681 व 45 मतो से शिकशत दी। संजीव को खतौली में 83273, शहर में 97401, बुढ़ाना में 100075, चरथावल में 82085 व सरधना में 80781 वोट मिले, जबकि हरेन्द्र मलिक को खतौली में 80861, शहर में 96600, बुढ़ाना में 116151, चरथावल में 95766 व सरधना में 80826 वोट मिले।

बसपा के दारा सिंह को इन विधानसभाओ में क्रमश: 37401, 15570,20288, 30308 व 37756 वोट ही मिल पाए। संजीव बालियान ने कहा कि उन्हे जनता का निर्णय स्वीकार है, लेकिन वह जनता से सम्पर्क और संवाद कायम रखेगे तथा भाजपा के एक जिम्मेदार कार्यकर्ता के रूप में उनकी सेवा करते रहेंगे।


दूसरी ओर हरेन्द्र मलिक ने कहा कि चुनाव में मतदाताओं ने लोकतंत्र और संविधान की रक्षा के लिए वोट दी है। घमंडियों को समझ लेना चाहिए कि जनता से बड़ा लोकतंत्र में कोई नहीं होता। उन्होने कहा कि वह सबको साथ लेकर जिले के विकास के लिए काम करेंगे।
बसपा प्रत्याशी दारा सिंह ने कहा कि उन्हे जनता ने भरपूर प्यार दिया। वह आगे भी यहां से जनसेवा का अपना सफर जारी रखेगे।

Latest articles

आखिर क्यों खतरनाक है सेहत के लिए पैकेज्ड फ्रूट जूस?

इन दिनों लोग समय और पैसे दोनों बचाने के लिए फ्रेश फ्रूट जूस की...

कुवैत अग्निकांड में मौतों की संख्या 49 हुई,10 भारतीयों को अस्पताल से छुट्टी मिली

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कुवैत अग्निकांड में भारतीयों की...

Shah Times Delhi 13 June 24

Latest Update

आखिर क्यों खतरनाक है सेहत के लिए पैकेज्ड फ्रूट जूस?

इन दिनों लोग समय और पैसे दोनों बचाने के लिए फ्रेश फ्रूट जूस की...

कुवैत अग्निकांड में मौतों की संख्या 49 हुई,10 भारतीयों को अस्पताल से छुट्टी मिली

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कुवैत अग्निकांड में भारतीयों की...

इंडिया गठबंधन को मिला प्रदेश की जनता का असीम प्रेम:अजय राय

युवाओं का भविष्य अंधकारमय भाजपा सरकार में :अजय राय धन्यवाद यात्रा निकालकर व्यक्त करेंगे जनता...

देश ने राहुल और प्रियंका गांधी को नेता माना है: अजय राय

इंडिया गठबंधन की सफलता में अल्पसंख्यकों की सबसे बड़ी भूमिका: शाहनवाज़ आलम हर ज़िले में...

पूर्व मुख्यमंत्री की पुत्री अदिति यादव क्या जल्द ही सियासत में नज़र आएगी

पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की बेटी अदिति यादव साथ में कैराना से नवनिर्वाचित सांसद...

कुवैत की इमारत में लगी खौफ़नाक आग ,41 की मौत, 30 से ज्यादा भारतीय ज़ख्मी 

भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कुवैत में आग लगने की घटना पर...

करहल विधानसभा से अखिलेश यादव ने दिया इस्तीफा, करहल से ये सपा नेता लड़ेगा चुनाव?

करहल विधानसभा से अखिलेश के इस्तीफ़े के बाद फैजाबाद सीट से चुनाव जीतने के...

क्या है राहुल गांधी की दुविधा ?

लोकसभा चुनाव में राहुल गांधी को केरल के वायनाड तथा उत्तर प्रदेश की रायबरेली...

हाथी को जीवनदान देने का प्रयास क्यों करेगी भाजपा !

यूपी में दलितों और पिछड़ों ने इंडिया गठबंधन को जिस तरीके से वोटिंग की...
error: Content is protected !!